DT News18- डिजायर टाइम्स

मैसूर (कर्नाटक) में मनाया गया आदिवासी अधिकार दिवस

मनीष ऊइके ने किया छिंदवाड़ा (मध्यप्रदेश) से आदिवासियो का नेतृत्व

मैसूर (कर्नाटक) में मनाया गया आदिवासी अधिकार दिवस

मनीष ऊइके ने किया छिंदवाड़ा (मध्यप्रदेश) से आदिवासियो का नेतृत्वमैसूर ,कर्नाटक- (डी.टी. न्यूज़)—- संयुक्त राष्ट्र संघ द्वारा 13 सितंबर, 2007 को आदिवासियों के अधिकारों के रूप में 46 अनुच्छेद घोषित किए गए थे । इसी के उपलक्ष में  आदिवासी अधिकार दिवस के रूप में मनाया जाता है इस वर्ष भी आदिवासी समन्वय मंच, भारत द्वारा  मैसूर कर्नाटक में 15 राज्यों के कार्यकर्ताओं की उपस्थिति आदिवासी अधिकार दिवस समारोह मनाया गया ।कार्यक्रम के पहले दिन “आदिवासी अधिकार महारैली नंजाराजा बहादुर चोल्ट्री से महाराजा कॉलेज मैसूर तक निकाली गई तत्पश्चात महाराजा कॉलेज के सैंटनरी हॉल में समारोह के अतिथियों की उपस्थिति में प्रकृति व पूर्वजों की पूजा अर्चना के साथ कार्यक्रम का उद्घाटन किया गया कार्यक्रम में मध्य प्रदेश राज्य से आए हुए पारंपरिक वेशभूषा में कार्यकर्ताओं द्वारा आदिवासी गरबा व नृत्य प्रस्तुत किया गया, कार्यक्रम में वक्ताओं  द्वारा आदिवासियों के प्राकृतिक एवं संवैधानिक अधिकारों के साथ आदिवासियों का इतिहास, संस्कृति, परंपरा तथा संयुक्त राष्ट्र संघ द्वारा घोषित आदिवासियों के अधिकारों से संबंधित 46 अनुच्छेदों पर प्रकाश डालते हुए अपनी बात रखी गई एवं देश के आदिवासियों के गंभीर मुद्दों पर भी चिंतन मंथन किया गया एवं 10 प्रस्ताव भी पारित किए गए

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि  फुलमन चौधरी उपाध्यक्ष यूनाइटेड नेशन्स परमानेंट फोरम ऑन इंडिजिनियस इश्यूज न्यूयॉर्क तथा विशेष अतिथि के रूप में  वी सोमन्ना केंद्रीय मंत्री कर्नाटक सरकार,अमरसिंह चौधरी संस्थापक अध्यक्ष आदिवासी समन्वय मंच भारत,अशोक चौधरी राष्ट्रीय संयोजक ,रमेश तावड़कर पूर्व केंद्रीय मंत्री आदिम जाति कल्याण विभाग गोवा सरकार, प्रोफेसर हेमंत कुमार वाइस चांसलर यूनिवर्सिटी आफ मैसूर, प्रोफेसर टी टी बासावना गौडा़ डायरेक्टर ट्राईबल रिसर्च सेंटर इंस्टिट्यूट कर्नाटक, डॉक्टर जर्री पायस पूर्व सलाहकार यूनिसेफ कंबोडिया, डॉ अभय खाखा फैकेल्टी सोशियोलॉजी, जेएनयू नई दिल्ली, साधना बहन मीणाराजस्थान, राजू पांढरा महाराष्ट्र, एस एस कुमरे(IAS) सेवानिवृत्त प्रमुख सचिव आयुष विभाग मध्यप्रदेश शासन ,  निकोलस बारला राष्ट्रीय सह संयोजक आदिवासी समन्वय मंच भारत, वी मुत्तैया सचिव राज्य मूला आदिवासी वैदिक कर्नाटक आदि थे।

DT News18-डिजायर टाइम्स